राज्य

WFI चीफ बृजभूषण शरण सिंह को मिली बड़ी राहत,बयान से पलट गई नाबालिग पहलवान

बीजेपी सांसद और भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष रहे बृजभूषण शरण सिंह को बड़ी राहत मिल सकती है. महिला पहलवानों की तरफ से लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोप में बृजभूषण पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही थी, लेकिन अब नाबालिग महिला पहलवान की तरफ से अपना बयान वापस ले लिया गया है. जिसके बाद अब सिंह के खिलाफ दायर एफआईआर से पॉक्सो की धाराओं को हटाया जा सकता है. पीड़िता के बयान वापस लेने के फैसले से बृजभूषण सिंह के केस में क्या असर पड़ेगा आइए समझते हैं. बीजेपी सांसद और भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष रहे बृजभूषण शरण सिंह को बड़ी राहत मिल सकती है. महिला पहलवानों की तरफ से लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोप में बृजभूषण पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही थी, लेकिन अब नाबालिग महिला पहलवान की तरफ से अपना बयान वापस ले लिया गया है. जिसके बाद अब सिंह के खिलाफ दायर एफआईआर से पॉक्सो की धाराओं को हटाया जा सकता है. पीड़िता के बयान वापस लेने के फैसले से बृजभूषण सिंह के केस में क्या असर पड़ेगा आइए समझते हैं.  वकील मुरारी तिवारी ने बताया कि इस तरह के मामलों में पीड़िता के बयान से पलट जाने की सूरत में केस पर काफी असर पड़ता है. ऐसे मामलों में आरोपी को इस वजह से फायदा मिलता है क्योंकि पीड़िता के बयानों पर ही संदेह खड़ा हो जाता है. जिसका फायदा आरोपी के वकील कोर्ट में उठा सकते हैं.  वकील ने आगे कहा, हालांकि जिस मजिस्ट्रेट के सामने 164 का बयान दर्ज होता है वह अमूमन पूरे केस की सुनवाई नहीं करता. पुलिस पीड़िता का बयान मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज करवाकर उसको अपनी चार्जशीट का हिस्सा बनाती है, फिर जिस कोर्ट के सामने पूरे केस की सुनवाई होती है वह तय करता है की 164 का बयान जो वापस लिया गया है उसको स्वीकार किया जाए या नहीं.

Related Articles

20 Comments

  1. Wow, wonderful weblog format! How lengthy have
    you been blogging for? you make blogging glance easy.
    The full look of your site is magnificent,
    as smartly as the content material! You can see similar here ecommerce

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button