क्रिकेटखेल

टीम इंडिया लगातार दूसरी बार WTC के फाइनल में पहुंची , टीम इंडिया ने रचा इतिहास

भारतीय टीम ने इतिहास रचते हुए वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में लगातार दूसरी बार जगह बना ली है. अहमदाबाद में अभी भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच खेला ही जा रहा है, इस बीच न्यूजीलैंड में जारी एक मैच से यह अच्छी खबर आई है. श्रीलंका और न्यूजीलैंड के बीच हुआ टेस्ट मैच खत्म हो गया जिसमें न्यूजीलैंड की 2 विकेट से जीत हुई है और इसी के साथ टीम इंडिया ने WTC 2023 फाइनल के लिए क्वालिफाई किया है.   भारत का मुकाबला अब वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के लिए ऑस्ट्रेलिया से होगा, जो पहले ही फाइनल के लिए क्वालिफाई कर चुका है. यह मैच 7 से 11 जून को लंदन के द ओवल मैदान में खेला जाएगा, इस मैच के लिए 12 जून को रिजर्व भी रखा गया है. टीम इंडिया लगातार दूसरी बार वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंची है इससे पहले उसे फाइनल में न्यूजीलैंड ने हराया था इंदौर टेस्ट में भारत को मिली हार ने वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के समीकरण को दिलचस्प बना दिया था और टीम इंडिया को फाइनल के टिकट के लिए कुछ इंतज़ार . करना पड़ा. इंदौर टेस्ट में जीत हासिल कर ऑस्ट्रेलिया की जगह पक्की हुई, लेकिन भारत की निर्भरता श्रीलंका-न्यूजीलैंड के टेस्ट मैच पर टिक गई. श्रीलंका न्यूजीलैंड के टेस्ट मैच पर टिक गई. श्रीलंका अभी न्यूजीलैंड में दो टेस्ट की सीरीज खेल रहा है, उसे फाइनल में पहुंचने के लिए इस सीरीज को 2-0 से जीतना था जो नहीं हो सका है. क्राइस्टचर्च में हुए इस टेस्ट की पहली पारी में श्रीलंका ने 355 का बड़ा स्कोर बनाया, जवाब में न्यूजीलैंड ने पहली पारी में 373 रन बना दिए. यहां डिरेल मिचेल ने शानदार शतक जड़ा. लेकिन जवाब में श्रीलंका ने दूसरी पारी में पलटवार किया और 302 रन बना दिए, जिसमें एंजेलो मैथ्यूज़ का शतक शामिल रहा. ऐसे में श्रीलंका ने न्यूजीलैंड को जीत के लिए 285 रनों का टारगेट दिया, आखिरी दिन यह लक्ष्य हासिल करना मुमकिन था लेकिन मुश्किल रहा. हालांकि, न्यूजीलैंड इस मैच को आखिरी ओवर तक ले गया और अंत में जीत हासिल कर को आखिरी ओवर तक ले गया और अंत में जीत हासिल कर  भारत पहली वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में भी पहुंचा था, जहां उसे न्यूजीलैंड ने हराया था. अब दूसरी टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में भारत पहुंचा है और इस बार न्यूजीलैंड की वजह से ही यह संभव हुआ है. अगर न्यूजीलैंड यह मैच हार जाता तो टीम इंडिया का फाइनल में पहुंचना मुश्किल था.  भारत ने इस चैम्पियनशिप में कुल 18 मैच खेले, इनमें 10 में जीत और 5 में हार मिली. जबकि 3 टेस्ट ड्रॉ रहे. टीम इंडिया प्वाइंट टेबल में नंबर-2 पर रही, जबकि. ऑस्ट्रेलिया 19 मैच में 11 जीत के साथ नंबर-1 पर रही. हर टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप में 6-6 सीरीज़ खेलनी थीं, जिसमें 3 अपने घर में और 3 विदेश में थीं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button