क्रिकेटखेल

ऑस्ट्रेलिया- मैच जीतते ही पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कैप्टन ने दिया चुभने वाला बयान

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जा रही है। टीम इंडिया अभी सीरीज में 2-1 से आगे चल रही है, लेकिन भारत को तीसरे टेस्ट में 9 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इंदौर के होल्कर स्टेडियम की पिच को आईसीसी ने 3 डिमैरिट अंक दिए हैं, जो पांच साल तक बने रहेंगे। अब ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने भारतीय पिचों की आलोचना की है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने मौजूदा बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के लिए अब तक इस्तेमाल की गई तीनों पिचों की जमकर आलोचना करते हुए कहा कि इस तरह की पिच तैयार करने में कुछ हद तक ‘चालबाजी’ की गई है। भारत चार मैचों की सीरीज में 2-1 से आगे है और अहमदाबाद में एक टेस्ट मैच खेला जाना बाकी है। नागपुर और नई दिल्ली की पिचों को आईसीसी ने ‘औसत’ रेटिंग दी जबकि मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड द्वारा इंदौर की पिच को ‘खराब’ करार दिया गया। इस खराब रेटिंग से इंदौर को तीन डिमैरिट अंक भी मिले और ये अंक पांच साल की अवधि के लिए बने रहेंगे। भारतीय टीम दोनों पारियों में 109 और 163 रन के स्कोर पर सिमट गई थी, जबकि आस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 197 रन बनाए और फिर तीसरे दिन सुबह उसने 76 रन के लक्ष्य का पीछा कर जीत हासिल की। टेलर ने सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड से इंदौर की पिच रेटिंग को सही करार देते हुए कहा कि मैं इससे सहमत हूं। मुझे निश्चित रूप से लगता है कि सीरीज के लिए पिचें पूरी तरह से खराब रही हैं। ईमानदारी से कहूं तो इंदौर की पिच तीनों में से सबसे खराब थी। मुझे नहीं लगता कि पिच पर पहले दिन से ही स्पिनरों को इतनी मदद मिलनी चाहिए। इस पूर्व ओपनर बल्लेबाज ने कहा कि मैच के चौथे या पांचवें दिन अगर ऐसा होता है तो चीजें समझ में आती है, लेकिन अगर पहले दिन से ही गेंद इतना अधिक टर्न ले तो यह खराब (पिच) तैयारी का नतीजा है। मुझे लगा कि इंदौर की पिच बहुत खराब है और उसी हिसाब से रैंकिंग दी जानी चाहिए थी। भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर हालांकि इंदौर की पिच को ‘खराब’ रेटिंग दिए जाने से खुश नहीं है। उन्होंने गाबा की पिच का उदाहरण दिया, जहां दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टेस्ट दो के भीतर समाप्त होने के बावजूद आईसीसी द्वारा ‘औसत से खराब’ रेटिंग दी गई थी। टेलर ने उनसे असहमति जताते हुए कहा कि ब्रिसबेन की पिच दोनों टीमों के लिए समान थी जबकि भारत-ऑस्ट्रेलिया श्रृंखला के पहले तीन टेस्ट के लिए पूरी से स्पिनरों की मददगार पिच तैयार की गई थी। ऑस्ट्रेलिया के इस कप्तान ने कहा कि गाबा की पिच पर दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजों को भी उतना ही (ऑस्ट्रेलिया के रूप में) मदद मिली करता, क्योंकि उनके पास चार बहुत अच्छे तेज गेंदबाज थे।

Related Articles

6 Comments

  1. Wow, superb weblog structure! How long have you ever been running a blog for?
    you make running a blog glance easy. The full look of your website is fantastic, let alone
    the content material! You can see similar here sklep

  2. Howdy just wanted to give you a quick heads up.

    The text in your post seem to be running off the screen in Ie.
    I’m not sure if this is a format issue or something
    to do with web browser compatibility but I thought I’d post to let you know.

    The layout look great though! Hope you get the issue solved soon. Kudos I saw
    similar here: Sklep internetowy

  3. Hey! Do you know if they make any plugins to help with Search Engine Optimization? I’m trying
    to get my blog to rank for some targeted keywords but
    I’m not seeing very good results. If you know of any please share.
    Thanks! You can read similar article here: Sklep internetowy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button