विश्व

इंडोनेशिया में शक्तिशाली भूकंप से कांपी धरती, रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.1 और 5.8 मापी

इंडोनेशिया में शक्तिशाली भूकंप आया है। हाल के समय में लगातार आ रहे भूकंपों के बीच यह भूकंप रविवार तड़के आया। जानकारी के अनुसार 1 घंटे में दो बार भूकंप से धरती कांपी है।यूरोपियन मेडिटेरेनियन सीस्मोलॉजिकल सेंटर ‘यूएमएससी‘ के मुताबिक, इंडोनेशिया में रविवार सुबह लगातार दो बार भूकंप के झटके लगे हैं। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.1 और 5.8 मापी गई है।यूएमएससी ने बताया कि रविवार तड़के केपुलुआन बाटू में दो बार भूकंप से धरती कांपी है। रविवार को भूकंप का पहला झटका महसूस किया गया। इसकी तीव्रता 6.1 रही। इसके कुछ ही घंटे बाद 5.8 तीव्रता वाला एक और भूकंप का झटका महसूस किया गया। ईएमएससी के अनुसार पहले भूकंप का 43 किलोमीटर की गहराई पर उद्गम केंद्र था। वहीं दूसरा भूकंप 40 किलोमीटर की गहराई में आया। भूकंप से अभी तक किसी भी जानमाल के नुकसान की खबर नहीं मिली है।इससे पहले बीते बुधवार को भी इंडोनेशिया में भूकंप का झटका लगा था। सबांग के 16 किमी पश्चिम दक्षिण पश्चिम में भूकंप आया था। रिक्टर स्‍केल पर इसकी तीव्रता 4.4 आंकी गई थी। यूएसजीएस ने बताया कि भूकंप रात करीब 11 बजे आया था। फिर इंडोनेशिया के करीब मोलुक्का सागर में शुक्रवार को भी शक्तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए गए। जर्मन रिसर्च सेंटर फॉर जियोसाइंसेज के अनुसार, रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.0 दर्ज की गई थी। यह भूकंप भारतीय समयानुसार दोपहर 3.51 बजे आया था। इससे पिछले शुक्रवार को भी इंडोनेशिया के जावा द्वीप के उत्तर में समुद्र में शक्तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। तब भूकंप की तीव्रता 7.0 दर्ज की गई थी। हालांकि किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं थी।

Related Articles

2 Comments

  1. Wow, fantastic weblog format! How long have you ever been running a blog for?
    you make running a blog glance easy. The total glance of your
    web site is magnificent, let alone the content material! You can see similar here ecommerce

  2. Hello there! Do you know if they make any plugins to assist with
    SEO? I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords
    but I’m not seeing very good results. If you know of any please share.
    Thanks! I saw similar text here: Auto Approve List

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button